[ad_1]

मोढ़ेरा स्थित सूर्य मंदिर को कुछ इस तरह बनाया गया है कि सूर्योदय होने पर पहली किरण सीधे मंदिर के गर्भगृह तक पहुंचती है.

मोढ़ेरा: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात के मोढ़ेरा में स्थित एतिहासिक विश्व प्रसिद्ध सूर्य मंदिर का एक वीडियो शेयर किया है. वीडियो शेयर करते हुए पीएम ने लिखा है, “बारिश के बीच मोढ़ेरा के सूर्य मंदिर का एक अद्भुत नजारा देखने को मिला.” वीडियो में देखा जा सकता है मंदिर के आसपास क्षेत्र में तेज बारिश हो रही है. इस दौरान बारिश का पानी सीढ़ियों से होते हुए नीचे सूर्यकुंड में आ रहा है. ये वाकई में एक अद्भुत नजारा है.

दरअसल, इन दिनों गुजरात के कई जिलों में लगातार बारिश हो रही है. बारिश के कारण नदियां उफान पर हैं. कई जिलो में हालात खराब हैं.

सूर्य मंदिर की खासियत
सूर्य मंदिर को कुछ इस तरह बनाया गया है कि सूर्योदय होने पर पहली किरण सीधे मंदिर के गर्भगृह तक पहुंचती है. हर साल संक्रांति के अवसर पर भक्त यहां से सूर्य के दर्शन करते हैं और यहां बने सूर्यकुंड के पानी से स्नान भी करते हैं. मंदिर के सभामंडप में कुल 52 स्तंभ हैं. इन स्तंभों पर देवी-देवताओं की तस्वीरें और रामायण-महाभारत के प्रसंग को उकेरे गए हैं. इस सभामंडप के आगे एक बड़ा कुंड बना हुआ है. ये सूर्यकुंड या रामकुंड कहलाता है.

मोढ़ेरा स्थित सूर्य मंदिर की स्थापना 11वीं सदी में हुई थी. करीब 800 साल पुराने सूर्य मंदिर के निर्माण में जुड़ाई के लिए कहीं भी चुने का इस्तेमाल नहीं हुआ है.

[ad_2]

Source link