Madhubani Gangrape: नाबालिग से गैंगरेप केस में 3 दरिंदे गिरफ्तार, POCSO कोर्ट ने न्यायिक हिरासत में भेजा

Madhubani Gangrape: नाबालिग से गैंगरेप केस में 3 दरिंदे गिरफ्तार, POCSO कोर्ट ने न्यायिक हिरासत में भेजा

बिंदु भूषण/मधुबनी: बिहार के मधुबनी हरलाखी थाना क्षेत्र में हुए गैंगरेप (Madhubani Gangrape) व आंख फोड़ने की वारदात में संलिप्त तीनों आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर कोर्ट भेज दिया. पॉक्सो (POCSO) मामले के स्पेशल जज सत्यप्रकाश की अदालत में तीनों आरोपियों को पेश किया गया. साथ ही पुलिस ने जब्त सामानों को भी कोर्ट में प्रस्तुत किया. इसके बाद कोर्ट ने तीनों आरोपियों को 14 दिनों के न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया.

वहीं, मुजफ्फरपुर से पहुंची एफएसएल टीम ने घटनास्थल पर पहुंचकर जांच की और सबूतों को इकट्ठा कर लौट गई. जानकारी के अनुसार, 12 जनवरी को तीन दरिंदों ने शराब के नशे में नाबालिग छात्रा को हवस का शिकार बनाकर आंख फोड़ी थी. बता दें कि हरलाखी थाना क्षेत्र में एक नाबालिग मूक बधिर लड़की से गैंगरेप कर आंख फोड़ने वाली घटना मामले में पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. बेनीपट्टी एसडीपीओ अरुण कुमार सिंह ने बताया कि गिरफ्तार तीनों अभियुक्तों ने दुष्कर्म (Rape) किया और आंख फोड़ दी. इस मामले में तीनों अभियुक्तों के विरुद्ध स्पीडी ट्राइल के तहत कड़ी से कड़ी सजा दिलाने के लिए पुलिस गंभीर है. 

घटना के तुरंत बाद एसपी डॉ सत्यप्रकाश ने टास्क फोर्स टीम (Task Force Team) का गठन किया. टीम ने अलग-अलग जगहों से तीनों आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. एसडीपीओ ने कहा कि घटनास्थल से शराब के कई खाली बोतल भी मिली है. जिससे प्रतीत होता है कि आरोपियों ने शराब पीकर घटना को अंजाम दिया है.  घटनास्थल से ब्लड लगा नुकीली लकड़ी बरामद हुआ है, जिससे उक्त दिव्यांग की आंखें फोड़ गई है. गिरफ्तार आरोपियों की पहचान उसी गांव के लक्ष्मी मुखिया, कृष्णा मुखिया व लक्ष्मीपुर टोला निवासी राम अवतार मुखिया के रुप में हुई है.

Uncategorized