आइटीआई करने वाले छात्रों को मिलेगा जमा दो के समकक्ष का दर्जा

अच्छे औद्योगिक संस्थानों में होती है प्लेसमेंट

बददी/सचिन बैंसल। हिमाचल प्रदेश सरकार के सहयोग से झाडमाजरी में संचालित बददी टैकनीकल ट्रेंनिग इंस्टीटयूट (बीटीटीआई) से इलेक्ट्रीश्यिान फिटर टर्नर तथा कंप्यूटर ऑप्रेटर जैसे विभिन्न व्यावसायिक कार्यों का प्रशिक्षण लेकर निकलने वाले छात्रों को अब 12वीं कक्षा के समकक्ष शिक्षा का दर्जा प्राप्त होगा। इसके आधार पर वह आगे स्नातक, इंजीनियरिंग अथवान अन्य विषयों में पढ़ाई कर सकेंगे। बीटीटीआई संस्थान झाडमाजरी के प्रधानाचार्य जयदीप अग्रवाल ने बताया कि आइटीआइ में दाखिला लेने की प्रक्रिया शुरू है। संस्थान में इलेक्ट्रीशियन फिटर टर्नर तथा कंप्यूटर ऑप्रेटर में इच्छुक विद्यार्थी दाखिल लेने के लिए आवेदन कर सकते हैं। आइटीआइ में प्रवेश लेने वाले सामान्य छात्रों की वार्षिक आय दो लाख से कम है उन्हें सरकार की ओर से एक हजार रूपए प्रतिमाह दिया जाएगा तथा दिव्यांगों को 1500 रूपए प्रदान किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि दसवीं के बाद आईटीआई करने के उपरांत जमा दो के 2 विषयों के ही पेपर देने होंगे। उन्होंने बताया कि आइटीआई करने के बाद छात्रों को अच्छे औद्योगिक संस्थानों में प्लेसमेंट भी करवाई जाती है। संस्थान में अधुनिक लैब व अन्य सुविधाएं बेहतर सुविधाएं प्रदान करवाई जाती हैं। उन्होंने कहा कि अधिक जानकारी के लिए अभयर्थी उनके कार्यालय के नंबर पर भी संपर्क कर सकते हैं। बीटीआईआई बीबीएन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन द्वारा हिमाचल प्रदेश सरकार के सहयोग से संचालित की जा रही है। अब तक यहां से निकले छात्रों की सौ फीसदी प्लेसमेंट स्थानीय उद्योगों में हो चुकी है।

The post सामान्य को 1000 व दिव्यांग को मिलेगा 1500 रुपये का अनुदान appeared first on Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News- Encounter India.

Leave a Reply