[ad_1]

मुंबई : मुंबई की एक स्थानीय अदालत ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले से जुड़े मादक पदार्थों की तस्करी को लेकर गिरफ्तार शौविक चक्रवर्ती और अभिनेता के पूर्व मैनेजर सैमुअल मिरांडा को शनिवार को 9 सितम्बर तक के लिए नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की हिरासत में भेज दिया। दोनों को आज भारी पुलिस बंदोबस्त के साथ अदालत में पेश किया गया। कोविड-19 के प्रतिबंधों के तहत मीडियाकर्मियों और अन्य लोगों को अदालत परिसर के भीतर प्रवेश की अनुमति नहीं दी गई।एनसीबी ने शौविक और सैमुअल को शुक्रवार की शाम को गिरफ्तार किया था। NCB ने ये साफ कर दिया है कि शौविक और सैमुअल की गिरफ्तारी सबूतों के आधार पर की गई है। जब्त किए गए सामान और चैट के आधार पर गिरफ्तारी हुई है। NCB के पास डिजिटल और तकनीकी सबूत भी मौजूद हैं. ज़ैद और उसके साथ ड्रग्स पैडलिंग की कड़ी में शामिल थे। एनसीबी ने यह भी कहा कि एजेंसी द्वारा दर्ज किए गए बयान और इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्य से यह स्पष्ट है कि परिहार उच्चवर्गीय समाज के लोगों से जुड़े ड्रग सिंडिकेट का सक्रिय सदस्य है। परिहार को एनसीबी ने गुरुवार शाम को गिरफ्तार किया जबकि विलात्रा को बुधवार को गिरफ्तार किया गया और अदालत ने उसे 9 सितंबर तक एजेंसी की हिरासत में भेज दिया है। एनसीबी ने अपने कार्यालय में शौविक और मिरांडा से पूछताछ की। साथ ही दोनों के आवासों पर एनसीबी के अधिकारियों ने शुक्रवार सुबह तलाशी भी ली थी और शौविक का लैपटॉप तथा मोबाइल फोन जब्त कर लिया था। 

[ad_2]

Source link