फैक्टरी को मोहल्ले से हटाने के लिए मोहल्ला निवासी अदालत का दरवाजा खटखटाएंगे

जालन्धर/ अनिल वर्माः चाहे सरकार द्वारा दावे किए जा रहे हैं किसी भी रिहायशी इलाके में कोई भी फैक्टरी नहीं चलाई जाएगी मगर हकीकत में अभी भी जालन्धर के कई रिहायशी इलाकों में धड़ल्ले से फैक्ट्रियां चलाई जा रही हैं जिनके खिलाफ न तो प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड कोई कार्रवाई कर रहा है और न ही जिला टाऊन प्लानर की ओर से इन फैक्टरियों को रिहायशी इलाकों से बाहर करने के लिए नोटिस जारी किया जा रहा है। ऐसा ही एक मामला न्यू गाजी गुल्ला के जंजघर के करीब रिहायशी इलाके में चल रही खल की फैक्टरी का सामने आया है, जोकि राजनैतिक शह पर वहां चल रही है। सूत्रों के अनुसार, इस फैक्टरी को चलाने के लिए पंजाब प्रदूषण बोर्ड की ओर से कोई लाईसैंस नहीं लिया गया और न ही इस फैक्ट्ररी का नगर निगम की ओर से कारोबारी नक्शा पास करवाया गया है, जोकि पंजाब सरकार के विभिन्न नियमों की सरेआम उल्लंघना है। मामले संबंधी इलाकावासी ने नाम न बताने पर कहा कि उक्त फैक्टरी से सारा दिन खल की बदबू पूरे इलाके में फैली रहती है जिससे सांस लेने में भी काफी दिक्कत होती है।
इस बदबू के कारण कई बच्चों की तबीयत भी खराब हो जाती है। खल से तेल निकाला जाता है और कई बार तेल फैक्टरी के बाहर गली में फैल जाता है जहां से कई बार बुजुर्ग तथा बच्चे गिर कर चोट लगवा चुके हैं। फैक्टरी में कच्चा माल सप्लाई करने के लिए ट्रक व बड़ी गाड़ियां आते हैं और तैयार माल ले जाने के लिए भी ट्रक समेत बड़ी गाड़ियां आती रहती हैं, जिस कारण बड़ी गाड़ियोंं के कारण मोहल्ले का सीवरेज कई बार टूट चुका है, जिस कारण वहां सीवरेज का गंदा पानी भी फैला रहता है। इस मामले में कई बार फैक्टरी मालिक को शिकायत की गई मगर वह हर बार राजनैतिक शह के चलते मुहल्लावासियों के साथ झगड़ा तथा गाली गलौच करते हैं। इलाकावासियों ने कहा कि इस मामले मेंं वह जल्द ही डिप्टी कमिशनर जालन्धर को मिलकर मांग पत्र सौंपेंगे और जल्द इस फैक्टरी को रिहायशी इलाके से बाहर निकालने की मांग की जाएगी। अगर उक्त फैक्टरी के खिलाफ कोई उचित कार्रवाई न हुई तो मोहल्ला निवासी अदालत का दरवाजा खटखटाएंगे।

The post राजनीतिक शह पर गाजी गुल्ला के रिहायशी इलाके में चल रही खल फैक्टरी ने किया लोगों का जीना मुहाल appeared first on Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News- Encounter India.

Leave a Reply