वैशाली। बिहार के वैशाली जिले में फूड प्वाइजनिंग के कारण 71 लोग होकर बीमार हो गए। कमतौलिया एवं पहाड़पुर गांव के अधिकतर लोग फूड प्वाइजनिंग के शिकार हुए हैं। सूचना मिलते ही पीएचसी वैशाली के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ ललन कुमार राय के नेतृत्व में आनन-फानन में मेडिकल टीम का गठनकर सभी पीड़ितों का इलाज गांव में ही शुरू कर दिया गया।

पहाड़पुर गांव निवासी विजय महतो ने बताया कि गांव में पूजा किया था। वहां पर गांव के सभी लोग प्रसाद खाए थे। प्रसाद खाए कुछ लोगों की तबियत 17 तारीख की देर रात से ही खराब होने लगी। वहीं 18 को देखते-देखते 40 से 50 लोगों को उल्टी दस्त आदि होना चालू हो गया। बीमार होने पर लोगों ने ग्रामीण चिकित्सक द्वारा अपना-अपना इलाज करवाया। वहीं स्थिति बिगड़ती देख लोगों ने शनिवार को इसकी सूचना प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र वैशाली के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. ललन कुमार राय को दी। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी द्वारा फौरन पहाड़पुर कमतौलिया गांव में मेडिकल की टीम का गठन किया गया, जिसमे डॉ. कौशल किशोर मिश्रा, डॉ. निशांत कुमार, एनएम प्रमिला कुमार, मनोज कुमार शामिल थे। उन्हें भेजकर इलाज कराया जा रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि 50 वर्षीय मानती देवी एवं 40 वर्षीय शारदा देवी का इलाज लालगंज के एक निजी डॉक्टर के यहां कराया जा रहा है।

प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. ललन कुमार राय ने बताया कि मेडिकल की टीम गांव में ही कैम्प कर इलाज कर रही है। सभी इलाजरत लोगों की स्थिति ठीक है। उन्हें इलाज कर सभी लोगों को जरूरी दवा भी दी जा रही है। मिली जानकारी के अनुसार विजय महतो, मनोज भगत, मालती देवी, महेश महतो, मनोज कुमार, सुदीश महतो, भुनेश्वर महतो, जयलाल महतो, विजय महतो, संतोष कुमार, बबलु कुमार, श्याम सुन्दरी देवी, रंजीता देवी कुल एकहत्तर लोग बीमार हो गए। डॉक्टरों द्वारा स्लाइन चढ़ाया जा रहा है। जब तक पूर्ण रूप से नियंत्रित नहीं हो जाता है, डॉक्टर गांव में ही रहेंगे।

The post पूजा का प्रसाद खाने से 71 लोगों की हालत बिगड़ी appeared first on Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News- Encounter India.

Leave a Reply