[ad_1]

फ्लाइंग स्क्वॉड के जरिए दिल्ली मेट्रो में नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए 92 यात्रियों को पकड़ा गया. वहीं इन सभी यात्रियों से जुर्माना भी वसूला गया.

नई दिल्ली: दिल्ली मेट्रो की सेवा सभी यात्रियों के लिए शुरू हो गई हैं, लेकिन सफर के दौरान कोविड-29 के नियमों का पालन करना आवश्यक है. लापरवाही करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जा रही है. इसी क्रम में शुक्रवार को सभी लाइनों पर फ्लाइंग स्क्वॉड के जरिए जांच अभियान चलाया गया. इस अभियान के तहत मेट्रो के अंदर ये देखा गया है कि यात्रियों द्वारा मेट्रो में नियमों का पालन किया जा रहा या नहीं.

150 से ज्यादा यात्रियों को समझाकर छोड़ दिया गया
फ्लाइंग स्क्वॉड के जरिए दिल्ली मेट्रो में नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए 92 यात्रियों को पकड़ा गया. वहीं इन सभी यात्रियों से जुर्माना भी वसूला गया. डीएमआरसी के कार्यकारी निदेशक अनुज दयाल ने बताया कि, “150 से ज्यादा यात्रियों को फ्लाइंग स्क्वॉड ने नियमों के बारे में बताया और समझा कर छोड़ दिया.”

उन्होंने बताया, “92 यात्रियों से दिल्ली मेट्रो ऑपरेशन ऐंड मैनेजमेंट ऐक्ट की धारा 59 के तहत 200 रुपये का जुर्माना वसूला भी गया. फ्लाइंग स्क्वॉड ने इन सभी लोगों को मेट्रो के अंदर नियमों की धज्जियां उड़ाते हुए पकड़ा.”

दरअसल, दिल्ली मेट्रो में यात्रियों को मास्क लगाना और उचित दूरी बनाए रखना आवश्यक है. ऐसा न करने वालों पर दिल्ली मेट्रो की तरफ से सख्त कार्रवाई की जा रही है.

दिल्ली मेट्रो के सभी रूट्स पर आज से शुरू हुई सेवाएं
आज से दिल्ली में मेट्रो अब पुरानी टाइमिंग यानी 6 बजे सुबह से 11 बजे रात तक चलेगी. इसके साथ-साथ मार्च महीने से बंद एयरपोर्ट लाइन भी आज से शुरू कर दी गई है. ट्रेन में यात्रियों के बीच 1 मीटर की दूरी बनी रहे, इसका विशेष ध्यान रखा गया है. सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित करने के लिए सीट पर मार्किंग भी की गई है. साथ ही साथ स्टेशन पर भीड़ न लगे, इसके लिए मेट्रो स्टाफ और सिविल वॉलंटियरों को तैनात किया गया है. यात्री को साथ लाने वाले सामान को भी सैनिटाइज कराना होगा. मेट्रो ट्रेन में एयरकंडीशन का इस्तेमाल नई गाइडलाइन के आधार पर किया जा रहा है, जिससे ताजा हवा की मात्रा ट्रेन में लगातार बनी रहे.

[ad_2]

Source link

Leave a Reply