[ad_1]
दादी अते पोती दी जोडी आनलाईन प्रतियोगिता की शुरू
राष्ट्रीय और राज्य सरकार को बहादुरी इनाम के लिए कुसुम के नाम की सिफारिश की
जालंधर, 10 सितंबर विनोद बिंटाजिलाधीश घनश्याम थोरी ने गुरुवार को 15 वर्षीय कुसुम को एक लाख रुपये का चैक भेंट किया। 30 अगस्त को दीन दयाल उपाध्याय नगर में दो मोटरसाइकिल से स्नैचरों के साथ कुसुम ने बहुत बहादुरी से सामना किया था,जिसमें एक आरोपी के हमले के बाद उसकी कलाई गंभीर रूप जख्मी भी हो गई थी।कुसुम के साहस और दृढ़ भावना को सलाम करते हुए, जिलाधीश ने ‘बेटी बचाओ, बेटी पढाओ’ प्रोग्राम के अधीन ब्रांड एंबैसडर के तौर में उसके नाम के शुभंकर का अनावरण किया,ताकि इससे अन्य लडकियों को भी प्रेरित किया जा सके।पूरे जोश के साथ कुसुम अपने पिता साधु राम और माँ राज कुमार के साथ डीसी कार्यालय पहुंची, जहाँ जिलाधीश ने स्वागत किया ।जिलाधीश घनश्याम थोरी ने कुसुम के परिवार से कहा कि कुसुम उसने जालंधर का नाम रोशन किया है और यह उसके सराहना के लिए एक छोटा सा टोकन था।उन्होंने परिवार को बताया कि प्रशासन ने राष्ट्रीय और राज्य बहादुरी पुरस्कार के लिए कुसुम के नाम की भी सिफारिश की है और इस संबंधी जानकारी प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के कार्यालयों को भी भेजी गई है।जिलाधीश ने कहा कि कुसुम ने साबित कर दिया है कि अगर मौका दिया जाए तो लड़कियां कुछ भी हासिल कर सकती हैं।उन्होंने कहा कि चूंकि कुसुम के माता-पिता ने उन्हें एनसीसी और ताइक्वांडो के लिए प्रेरित किया, और इस आत्मविश्वास से उसने स्नैचिंग की घटना के दौरान पूरे साहस का प्रदर्शन किया।पुलिस अधिकारी बनने के सपने को साकार करने के लिए जिलाधीश ने कुसुम को पूरा सहयोग करने का भरोसा दिया। उन्होंने परिवार से किसी भी तरह की मदद के लिए कभी भी अपने कार्यालय से संपर्क करने की बात कही।डिप्टी कमिश्नर ने साथ ही दादी अते ’पोती दी जोड़ी ’ एक ऑनलाइन प्रतियोगिता भी शुरू की, जिसमें 15 वर्ष की आयु की युवा लड़कियां भाग ले सकती हैं। उन्होंने कहा कि लड़कियां सेल्फी विद दादी ’और and दादी और पोती’ (30 सैकंड से 60 सैकंड) के रिश्तों पर एक वीडियो बना सकती हैं और 21 सितंबर 2020 तक व्हाट्सएप नंबर 98720-21457 पर भेज सकती हैं।उन्होंने कहा कि पहले तीन स्थान वालें को 10,000 रुपये, दूसरे स्थान पर 5000 रुपये और तीसरे स्थान वाले को 2100 रुपये का नकद इनाम मिलेगा। 1100 रुपये के कोंसोलेशन इनाम भी दिए जाएंगे।इस अवसर पर मुख्य रूप से एसडीएम राहुल सिंधु, सहायक आयुक्त हरप्रीत सिंह, हरदीप सिंह, जिला प्रोग्राम अधिकारी गुरमिंदर सिंह रंधावा और अन्य शामिल थे।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply