जालन्धर कैंट के बाजारों में चल रहे अवैध निर्माणों का मामला…

8 लोगों को तुरन्त काम बंद करने का आदेश, 248 के तहत नोटिस जारी

जालंधर/अनिल वर्मा/वरुण अग्रवाल। कैंट के बाजारों में बन रही अवैध इमारतों का मामला लगातार एनकांउटर न्यूज में उठाया जा रहा है जिसका संज्ञान लेते हुए कैंट बोर्ड के सीईओ ज्योति कुमार द्वारा रिपेयर की परमिशन लेकर नई इमारत बनाने वाले लोगों को पहले कैंट बोर्ड एक्ट की धारा 239 के तहत नोटिस जारी कर तुरन्त काम रोक कर स्पष्टीकरण देने के लिए एक सप्ताह का समय दिया गया था मगर लोगों ने काम रोकने की बजाए काम को दौगुणी तेजी से करना शुरु कर दिया। बीते सप्ताह इस मामले में 8 लोगों को कैंट बोर्ड एक्ट की धारा 248 के तहत भी नोटिस जारी कर दिया गया है। इस धारा के अनुसार बिना परमिशन हुए निर्माण को डिमोलिश या सील करने का प्रावधान है।

बता दें कि मुहल्ला नंबर 26 में बन रही नत्थी वाली दुकान से मशहूर बिल्डिंग का काम बिना परमिशन किया जा रहा है। इस इमारत बीते कुछ दिन पहले पूरी तरह गिरा दिया गया था और बाद में यहा नई इमारत का निर्माण किया गया जोकि दो मंजिला तक पहुंच चुका है। इस इमारत में दिन रात काम लगातार जारी रहता है यहां शटर लगाने का काम भी रात के समय ही किया गया था। इसी लाईन में दूसरी बड़ी इमारत बन रही है जिसके पास भी कोई परमिशन नहीं है।

फोटोः अजय

इसी बाजार में मोहल्ला नंः 23 में एक मकान जो करीब 17 मरले का है। खस्ता हालत होने के चलते उसकी रिपेयर की परमिशन ली गई थी। लेकिन रिपेयर की आढ़ में मकान मालिक ने पूरी ईमारत को गिरा कर वहां 2 मंजली इमारत बनाने का काम शुरू कर दिया। जोकि अभी भी धड़ल्ले से चल रहा है। सूत्रों अनुसार इस इमारत को कमर्शियल इस्तेमाल करने के लिए तैयार किया जा रहा है। कैंट बाजार के सूत्रों अनुसार इस इमारत को बनाने के लिए मोटी रकम देनी की चर्चा है। जिसकी वजह से कैंट बोर्ड द्वारा इस काम को निर्विघन करवाया जा रहा है।

जिक्रयोग है कि कैंट बोर्ड द्वारा कुल 11 लोगों को रिपेयर की परिमशन दी गई थी जिनमें 8 कमर्शियल तथा 3 रिहायशी थी। सभी कमर्शियल इमारतों को रिपेयर की आढ़ में नए सिरे से तैयार किया गया है। जोकि कैंट बोर्ड के अधिकारियों की बड़ी लापरवाही की ओर इशारा कर रहा है। इन इमारतों की जानकारी होते हुए भी एक दिन भी काम नहीं रोका गया।

जानकारी देते हुए जालन्धर कैंट बोर्ड के सीईओ ज्योति कुमार ने बताया कि फिलहाल किसी भी नए केस में रिपेयर की परमिशन नहीं दी जा रही जिन लोगों ने रिपेयर की परमिशन लेकर नई इमारत बनाई है उन केसों का निपटारा किया जाएगा। 8 लोगों को नोटिस जारी किए गए हैं अगर वे ज्वाब नहीं देते तो इन इमारतो पर फैसला लेने के लिए हाउस की मीटिंग में मुद्दा रखा जाएगा उसके बाद कारवाई की जाएगी।

The post जालन्धर कैंट के बाजारों में चल रहे अवैध निर्माणों का मामला… appeared first on Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News- Encounter India.

Leave a Reply