सोलन/सुशील पंडित। जिला आयुर्वेद विभाग सोलन द्वारा धर्मपुर विकास खण्ड की ग्राम पंचायत गोयला, कोट, आंजी मातला तथा कालूझिंडा में एनीमिया तथा कोविड-19 बारे जागरूक शिविर आयोजित किए गए। यह जानकारी जिला आयुर्वेदिक अधिकारी डाॅ. राजेन्द्र शर्मा ने आज यहां दी।

उन्होंने कहा कि इन ग्राम पंचायतों में आयोजित शिविरों में 293 रोगियों की एनीमिया जांच की गई। ग्राम पंचायत गोयला में 80, ग्राम पंचायत आंजी मातला में 77, ग्राम पंचायत कोट में 105 तथा ग्राम पंचायत कालूझिंडा में 31 रोगियों की हीमोग्लोबिन की जांच की गई।
डाॅ. राजेन्द्र शर्मा ने कहा कि इन शिविरों में लोगों को बताया गया कि शरीर में रक्त की कमी के कारण एनीमिया होता है। इस रोग में शरीर के ब्लड सेल्स का स्तर सामान्य से कम हो जाता है। लोगों को संतुलित आहार लेने के बारे में भी जानकारी दी गई।
शिविर में कोविड-19 से सुरक्षा बारे भी लोगों को जानकारी दी गई।
इस अवसर पर रोगियों को एनीमिया की निःशुल्क दवाएं भी वितरित की गईं।
डाॅ. राजेन्द्र शर्मा ने कहा कि इसी प्रकार का शिविर 21 सितम्बर को ग्राम पंचायत बढलग के पंचायत घर बढलग, ग्राम पंचायत धर्मपुर की सब्जी मण्डी, ग्राम पंचायत बरोटीवाला के आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केन्द्र बरोटीवाला, ग्राम पंचायत कोटबेजा के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र कोटबेजा, 23 सितम्बर को ग्राम पंचायत रौड़ी के पंचायत घर रौड़ी कोटला, ग्राम पंचायत बारियां के आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केन्द्र जोहड़जी, ग्राम पंचायत सूरजपुर के आंगनवाड़ी केन्द्र सूरजपुर तथा ग्राम पंचायत हुड़ंग के आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केन्द्र कण्डा में कोविड-19 एवं एनीमिया से जागरूकता के लिए शिविर आयोजित किए जाएंगे।
इस अवसर पर आयुर्वेदिक चिकित्सक डाॅ. मंजेश शर्मा, डाॅ. प्रियंका सूद, डाॅ. विनय सूद, डाॅ. रक्षा तथा आयुर्वेद विभाग के अन्य कर्मचारी तथा स्थानीय निवासी थे।

The post ग्राम पंचायत गोयला, कोट, आंजी मातला तथा कालूझिंडा में की 293 रोगियों की एनीमिया जांच appeared first on Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News- Encounter India.

Leave a Reply