[ad_1]

कोरोना वायरस महामारी के कारण जनता कर्फ्यू लगाए जाने के बाद से ही दिल्ली मेट्रो सेवा बंद है. वहीं अनलॉक की प्रक्रिया के दौरान अब दिल्ली मेट्रो सेवा बहाल किए जाने की आशंका है.

नई दिल्लीः कोरोना संक्रमण के कारण लगाए लॉकडाउन के बाद से अभी तक दिल्ली में मेट्रो सेवा पूरी तरह बंद पड़ी है. वहीं कयास लगाए जा रहे हैं की दिल्ली मेट्रो रेल सेवा दोबारा शुरू होने के साथ ही स्टेशन के प्रवेश द्वारों की संख्या में भारी कमी की जाएगी, ताकि कोविड-19 के दौरान सामाजिक दूरी के नियमों का अनुपालन सुनिश्चित किया जा सके. सूत्रों ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी.

कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर जनता कर्फ्यू लागू किए जाने के बाद 22 मार्च से ही दिल्ली मेट्रो सेवा बंद है. दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (डीएमआरसी) ने रविवार को कहा था जब भी सरकार की ओर से निर्देश दिया जाता है, हम संचालन शुरू करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं.

एक सूत्र ने कहा, ‘ डीएमआरसी की 10 लाइनों पर फैले 242 स्टेशनों के 671 प्रवेश द्वार हैं. जब भी मेट्रो सेवा शुरू होती है, कोविड-19 सुरक्षा मानदंडों का अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए केवल 257 द्वार ही खेले जाने की योजना है.’

बता दें कि भारत दुनिया में सबसे ज्यादा संक्रमितों के मामले में तीसरे नंबर पर है, जबकि सबसे ज्यादा मौत के मामले में चौथे नंबर पर है. भारत ऐसा तीसरा देश है जहां सबसे ज्यादा एक्टिव केस हैं. देश में कोरोना संक्रमण बढ़कर 33 लाख के पार पहुंच गए हैं. वहीं वर्तमान में 7 लाख से ज्यादा संक्रमितों का इलाज किया जा रहा है. देशभर में अबतक 60 हजार से ज्यादा लोगों की मौत कोरोना संक्रमण के कारण हुई है. राहत की बात यह है कि अबतक 25 लाख से ज्यादा लोगों का इलाज सफल हुआ है.

[ad_2]

Source link