नई दिल्ली। कोरोना के बढ़ते मामले के बीच देश के सात राज्यों में ऑक्सीजन की कमी की बात सामने आई है, जिसके बाद केंद्र ने महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तेलंगाना, गुजरात, राजस्थान और मध्य प्रदेश से यह सुनिश्चित करने का अनुरोध किया है कि कोरोना वायरस महामारी के कारण सभी स्वास्थ्य केंद्रों में ऑक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता और राज्य के अंदर तथा दूसरे राज्यों में ऑक्सीजन सिलेंडरों की निर्बाध आवाजाही सुनिश्चित की जाए.

इससे पहले, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक डिजिटल बैठक की जिसमें केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव, सचिव डीपीआईआईटी और सचिव, औषध ने हिस्सा लिया. बैठक में सात राज्यों के स्वास्थ्य सचिव और उद्योग सचिव भी शामिल थे और इस दौरान सभी स्वास्थ्य केंद्रों में ऑक्सीजन की पर्याप्त उपलब्धता तथा ऑक्सीजन सिलेंडरों की राज्य के अंदर और दूसरों राज्यों तक निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने के तरीकों पर चर्चा हुई.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि राज्यों को परामर्श दिया गया कि वे स्वास्थ्य केंद्र वार/अस्पताल वार ऑक्सीजन के लेखे-जोखे का प्रबंधन करें और वहां खर्च होने पर फिर से ऑक्सीजन की अग्रिम आपूर्ति सुनिश्चित करें जिससे उनके स्टॉक में कमी होने की स्थिति न बने.

सरकार ने राज्यों से यह भी सुनिश्चित करने का अनुरोध किया कि चिकित्सीय ऑक्सीजन की राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के बीच आवाजाही पर कोई रोक न लगाई जाए और शहरों के अंदर तरल चिकित्सा ऑक्सीजन (एलएमओ) टैंकरों के लिये ‘ग्रीन कॉरिडोर’ का प्रावधान किया जाए. बयान में कहा गया कि अस्पतालों और संस्थानों के उत्पादकों के साथ ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिये दीर्घकालिक अनुबंध होते हैं जिनका सम्मान किये जाने की जरूरत है.

7 राज्यों में ऑक्सीजन की कमी- कोरोना के बढ़ते मामले के बीच महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तेलंगाना, गुजरात, राजस्थान और मध्य प्रदेश में ऑक्सीजन की कमी हो गई है. ये सभी राज्य कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित है. वहीं पंजाब में भी कोरोना के बढ़ते मामले के बीच ऑक्सीजन की कमी हो गई है.

The post कोरोना के बीच कई राज्यों में एक और मुसीबत appeared first on Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News- Encounter India.

Leave a Reply